Advertisements

Vindheshwari Stotra Pdf / बगलामुखी साधना और सिद्धि पीडीएफ

Advertisements

नमस्कार मित्रों, इस पोस्ट में हम आपको Vindheshwari Stotra Pdf देने जा रहे हैं, आप नीचे की लिंक से Vindheshwari Stotra Pdf Download कर सकते हैं।

 

Advertisements

 

 

Advertisements
Vindheshwari Stotra Pdf
यहां से विंध्येश्वरी स्तोत्र पीडीएफ डाउनलोड करें।  
Advertisements

 

 

 

 

बगलामुखी साधना और सिद्धि पीडीएफ
यहां से बगलामुखी साधना और सिद्धि पीडीएफ डाउनलोड करें।
Advertisements

 

 

 

 

बगलामुखी रहस्य बुक Pdf Download
यहां से बगलामुखी रहस्य बुक Pdf Download करें।
Advertisements

 

 

 

 

हस्त रेखा ज्ञान चित्र सहित इन हिंदी पीडीएफ
यहां से हस्त रेखा ज्ञान चित्र सहित इन हिंदी पीडीएफ डाउनलोड करें।  
Advertisements

 

 

 

 

अति आनंद और प्रेम के साथ उमंग में भरकर वह भगवान के चरण कमल को धोने लगा। सब देवता फूल बरसाते हुए सिहाने लगे कि आज इसके समान पुण्य की राशि कोई भी नहीं है।

 

 

101- दोहा का अर्थ-

 

 

 

प्रभु श्री राम के चरणों को धोकर और अपने परिवार के साथ उस चरणोदक को पीकर पहले उस महान पुण्य के द्वारा पहले अपने पितरो को भवसार से पार उतारकर फिर आनंद के साथ श्री राम जी को गंगा जी के पार ले गया।

 

 

 

चौपाई का अर्थ-

 

 

 

1- निषाद राज और लक्ष्मण जी सहित श्री सीता जी और श्री राम जी नाव से उतरकर गंगा जी की रेत (बालू) में खड़े हो गए। तब केवट ने उतरकर दंडवत किया उसको दंडवत करते देखकर प्रभु श्री राम जी को संकोच हुआ कि इसे कुछ नहीं दिया।

 

 

 

2- पति के हृदय की जानने वाली सीता जी आनंद भरे मन से अपनी रत्न जड़ित अंगूठी को ऊँगली से उतारा तब कृपालु श्री राम जी ने केवट से कहा, नाव की उतराई लो तो केवट ने व्याकुल होकर श्री राम जी के चरण पकड़ लिए।

 

 

 

3- उसने कहा – हे नाथ! आज मैंने सब कुछ प्राप्त कर लिया, मेरे दोष दुःख और दरिद्रता की आग आज बुझ गयी। मैंने बहुत समय तक मजदूरी किया लेकिन आज विधाता ने बहुत अच्छी और भरपूर मजदूरी दिया है।

 

 

 

4- हे नाथ! हे दीन दयाल! मुझे अब कुछ नहीं चाहिए, केवल आपकी कृपा चाहिए। लौटते समय आप मुझे जो कुछ भी दे देंगे, वह प्रसाद मैं अपने सिर के ऊपर रख लूंगा।

 

 

 

मित्रों यह पोस्ट Vindheshwari Stotra Pdf आपको कैसी लगी, कमेंट बॉक्स में जरूर बतायें और इस तरह की पोस्ट के लिये इस ब्लॉग को सब्सक्राइब जरूर करें और इसे शेयर भी करें।

 

 

 

 

Leave a Comment

error: Content is protected !!