Advertisements

Indrajaal Books Pdf / सौंदर्य लहरी Pdf / फलदीपिका पीडीऍफ़ हिंदी फ्री 

Advertisements मित्रों इस पोस्ट में Indrajaal Books Pdf / सौंदर्य लहरी Pdf  दिया जा है। आप नीचे की लिंक से Indrajaal Books Pdf फ्री डाउनलोड कर सकते हैं। Advertisements                                 सिर्फ पढ़ने के लिए      तीनो तापो का नष्ट होना – श्री कृष्ण कहते है जो इस प्रकार से कृष्ण भावनामृत में तुष्ट व्यक्ति के लिए संसार के तीनो ताप नष्ट हो जाते है और ऐसी तुष्ट चेतना होने पर उसकी बुद्धि शीघ्र ही स्थिर हो जाती है।         66- स्थिर मन के बिना – शांति की संभावना नहीं – श्री कृष्ण कहते है – जो कृष्ण भावनामृत में स्थिर हुए बिना शांति की कोई भी …

Read more

Advertisements
error: Content is protected !!