Advertisements

Swadeshi Chikitsa Part 2 Pdf / स्वदेशी चिकित्सा पार्ट 2 Pdf

Advertisements

नमस्कार मित्रों, इस पोस्ट में हम आपको Swadeshi Chikitsa Part 2 Pdf देने जा रहे हैं, आप नीचे की लिंक से Swadeshi Chikitsa Part 2 Pdf Download कर सकते हैं और आप यहां से गंभीर रोगों की चिकित्सा Pdf Download कर सकते हैं।

 

Advertisements

 

 

 

Swadeshi Chikitsa Part 2 Pdf / स्वदेशी चिकित्सा पार्ट 2 पीडीएफ

 

 

पुस्तक का नाम स्वदेशी चिकित्सा पार्ट 2
पुस्तक के लेखक राजिव दीक्षित 
भाषा हिंदी 
श्रेणी चिकित्सा, स्वास्थ्य 
फॉर्मेट Pdf
साइज 4.4 Mb
कुल पृष्ठ 125

 

 

स्वदेशी चिकित्सा पार्ट 2 Pdf Download

 

गंभीर रोगों की चिकित्सा Pdf Download

 

 

 

Advertisements
Swadeshi Chikitsa Part 2 Pdf
Swadeshi Chikitsa Part 2 Pdf
Advertisements

 

 

सिर्फ पढ़ने के लिए

 

 

 

 

अंगद ने कहा – मैं समुद्र के पार तो चला जाऊंगा परन्तु लौटते समय हृदय में कुछ संदेह है। जांबवान ने कहा – तुम प्रकार से योग्य हो। परन्तु तुम सबके नेता हो तुम्हे कैसे पठाया जाय?

 

 

 

 

ऋक्ष राज जांबवान ने हनुमान जी से कहा – हे हनुमान! हे बलवान! सुनो, तुमने यह किस प्रकार की चुपकी साध रखी है? तुम पवन के पुत्र हो और बल में भी पवन के समान हो। तुम बुद्धि और विवेक के भंडार हो।

 

 

 

 

जगत में ऐसा कौन सा कठिन कार्य है तात! तुमसे न हो सके। श्री राम जी के कार्य के लिए ही तो तुम्हारा अवतार हुआ है। यह सुनते ही हनुमान जी पर्वत के आकार जैसे अत्यंत विशालकाय हो गए।

 

 

 

 

उनका सुवर्ण के जैसा रंग है और शरीर पर तेज विराजमान है मानो दूसरा पर्वत का राजा सुमेरु हो। हनुमान जी ने बार-बार सिंहनाद करते हुए कहा कि मैं इस खारे समुद्र को खेल में ही लाँघ सकता हूँ।

 

 

 

 

और सहायको के साथ ही रावण को भगाकर यहां त्रिकूट पर्वत को उखाड़कर ला सकता हूँ। हे जांबवान! मैं तुमसे पूछता हूँ तुम मुझे उचित सीख देना कि मुझे क्या करना चाहिए।

 

 

 

 

जांबवान ने कहा – हे तात! तुम जाकर इतना ही करो कि सीता को देखकर लौट आओ और उनकी खबर कह दो। फिर कमलनयन श्री राम जी अपने बाहुबल से ही राक्षसों का सत्पर करके सीता जी को ले आएंगे। केवल खेल के लिए ही वह वानरों की सेना साथ लेंगे।

 

 

 

 

छंद का अर्थ-

 

 

 

वानरों की सेना साथ लेकर राक्षसों को परलोक भेजेंगे  और श्री राम जी सीता को ले आएंगे। तब देवता और नारद आदि भगवान के तीनों लोको पवित्र करने वाले सुंदर यश का बखान करेंगे।

 

 

 

 

मित्रों यह पोस्ट Swadeshi Chikitsa Part 2 Pdf आपको कैसी लगी, कमेंट बॉक्स में जरूर बतायें और इस तरह की पोस्ट के लिये इस ब्लॉग को सब्सक्राइब जरूर करें और इसे शेयर भी करें।

 

 

 

 

Leave a Comment

error: Content is protected !!