Advertisements

Shree Vidya Sadhana Pdf / श्री विद्या साधना Pdf

Advertisements

नमस्कार मित्रों, इस पोस्ट में हम आपको Shree Vidya Sadhana Pdf देने जा रहे हैं, आप नीचे की लिंक से Shree Vidya Sadhana Pdf Download कर सकते हैं और आप यहां से रहस्यमयी प्राचीन तंत्र विद्या PDF भी पढ़ सकते हैं।

 

Advertisements

 

 

 

Shree Vidya Sadhana Pdf / श्री विद्या साधना पीडीएफ

 

 

 

Advertisements
Shree Vidya Sadhana Pdf
श्री विद्या साधना पीडीऍफ़ डाउनलोड 
Advertisements

 

 

 

 

 

 

Note- इस वेबसाइट पर दिये गए किसी भी पीडीएफ बुक, पीडीएफ फ़ाइल से इस वेबसाइट के मालिक का कोई संबंध नहीं है और ना ही इसे हमारे सर्वर पर अपलोड किया गया है।

 

 

 

 

यह मात्र पाठको की सहायता के लिये इंटरनेट पर मौजूद ओपन सोर्स से लिया गया है। अगर किसी को इस वेबसाइट पर दिये गए किसी भी Pdf Books से कोई भी परेशानी हो तो हमें [email protected] पर संपर्क कर सकते हैं, हम तुरंत ही उस पोस्ट को अपनी वेबसाइट से हटा देंगे।

 

 

 

 

सिर्फ पढ़ने के लिए

 

 

 

प्रातःकाल की सब क्रिया करके माता के चरणों की बंदना कर और गुरु जी को सिर नवाकर भरत जी ने निषाद गणों को रास्ता दिखलाने के लिए आगे कर लिया और सभी चल पड़े।

 

 

 

चौपाई का अर्थ-

 

 

1- निषाद राज को आगे करके पीछे सब माताओ की पालकी चली। छोटे भाई शत्रुघ्न जी को बुलाकर उनके साथ कर दिया। फिर ब्राह्मणो के साथ ही गुरु जी ने गमन किया।

 

 

 

2- तदनन्तर भरत जी ने गंगा जी को प्रणाम किया और लक्ष्मण के साथ ही श्री सीता राम जी का स्मरण किया। भरत जी पैदल ही चल रहे है। उनके साथ (कोतल) बिना सवार के घोड़े बागडोर से बंधे हुए चले जा रहे है।

 

 

 

3- उत्तम सेवक बार-बार कहते है – हे नाथ! आप घोड़े पर सवार हो जाइये। भरत जी जवाब देते है कि – श्री राम जी तो पैदल ही गए है और हमारे लिए हाथी और घोड़े लाए गए है।

 

 

 

4- मैं सिर के बल चल जाऊं, हमारे लिए तो यही उचित होगा। सेवक का धर्म सबसे कठिन होता है। भरत जी की दशा देखकर और उनकी कोमल वाणी सुनकर सब सेवकगण ग्लानि से गल जा रहे है।

 

 

 

 

 

मित्रों यह पोस्ट Shree Vidya Sadhana Pdf आपको कैसी लगी, कमेंट बॉक्स में जरूर बतायें और इस तरह की पोस्ट के लिये इस ब्लॉग को सब्सक्राइब जरूर करें और इसे शेयर भी करें।

 

 

 

 

 

Leave a Comment

error: Content is protected !!