Advertisements

Shatabdi Panchang Hindi Pdf / हनुमान अंक Pdf Download

Advertisements

नमस्कार मित्रों, इस पोस्ट में हम आपको Shatabdi Panchang Hindi Pdf देने जा रहे हैं, आप नीचे की लिंक से Shatabdi Panchang Hindi Pdf Download कर सकते हैं।

 

Advertisements

 

 

Advertisements
Shatabdi Panchang Pdf
यहाँ से शताब्दी पंचांग पीडीएफ डाउनलोड करें।
Advertisements

 

 

 

Bhavishya Puran PDF Hindi
यहाँ से भविष्य पुराण यहाँ से डाउनलोड करें। 
Advertisements

 

 

 

Bhavishya Puran PDF Hindi
यहां से भविष्य मालिका इन हिंदी Pdf Download करें।
Advertisements

 

 

Shatabdi Panchang Hindi Pdf
यहां से हनुमान अंक Pdf Download करें।
Advertisements

 

 

 

प्रिय पथिक सीता जी सहित दोनों भाईयो को जिन लोगो ने भी देखा उन्होंने भव का अगम मार्ग बिना परिश्रम के ही तप कर लिया हो अथवा आवागमन के चक्र से मुक्त हो गए है।

 

 

 

चौपाई का अर्थ-

 

 

 

1- आज भी जिसके हृदय में स्वप्न में भी लक्ष्मण, सीता, राम तीनो पथिक (बटोही) आ बसे तो वह भी श्री राम के परम धाम का मार्ग प्राप्त कर लेता है। जिस मार्ग को कभी-कभी कोई मुनि प्राप्त करता है।

 

 

 

 

2- तब श्री राम जी सीता जी को थकी हुई जानकर और समीप ही एक बरगद का वृक्ष और शीतल पानी देखकर उस दिन वही रुक गए। कंद, मूल, फल खाकर और रात्रि में विश्राम कर और प्रातः काल होने पर स्नान करके श्री राम जी आगे चले।

 

 

 

 

3- सुंदर वन, तालाब और पर्वत देखते हुए प्रभु श्री राम जी वाल्मीकि जी के आश्रम में आये। श्री राम जी ने देखा मुनि का आश्रम बहुत ही सुंदर है जहां सुंदर पर्वत वन और पवित्र जल है।

 

 

 

 

4- सरोवरों में कमल और वनो में वृक्ष फूल रहे है और मकरंद रस में भूले हुए भौरे गुंजार कर रहे है। बहुत से पक्षी और पशु कोलाहल कर रहे है और बैर से रहित होकर प्रसन्न मन से विचरण कर रहे है।

 

 

 

पवित्र और सुंदर आश्रम को देखकर कमल के समान नेत्र वाले श्री राम जी हर्षित हुए। रघु श्रेष्ठ श्री राम जी का आगमन सुनकर मुनि वाल्मीकि जी उन्हें लेने के लिए आगे आये।

 

 

 

मित्रों यह पोस्ट Shatabdi Panchang Hindi Pdf आपको कैसी लगी, कमेंट बॉक्स में जरूर बतायें और इस तरह की पोस्ट के लिये इस ब्लॉग को सब्सक्राइब जरूर करें और इसे शेयर भी करें।

 

 

Leave a Comment

error: Content is protected !!