Advertisements

प्रेम पूर्णिमा Pdf / Prem Purnima Novel PDF In Hindi

Advertisements

नमस्कार मित्रों, इस पोस्ट में हम आपको Prem Purnima Novel PDF In Hindi देने जा रहे हैं, आप नीचे की लिंक से Prem Purnima Novel PDF In Hindi download कर सकते हैं और आप यहां से Namami Shamishan Pdf Hindi कर सकते हैं।

Advertisements

 

 

 

 

 

 

Prem Purnima Novel PDF In Hindi

 

पुस्तक का नाम  Prem Purnima Novel PDF In Hindi
पुस्तक की लेखक  प्रेमचंद 
भाषा  हिंदी 
साइज  13.2 Mb 
पृष्ठ  219 
फॉर्मेट  Pdf 
श्रेणी  उपन्यास 

 

 

प्रेम पूर्णिमा Pdf Download

 

Advertisements
Prem Purnima Novel PDF In Hindi
Prem Purnima Novel PDF In Hindi Download यहां से करे।
Advertisements

 

 

 

Advertisements
Poos Ki Raat Kahani Premchand Pdf
Poos Ki Raat Kahani Premchand Pdf यहां से डाउनलोड करे।
Advertisements

 

 

 

Advertisements
Prem Purnima Novel PDF In Hindi
जहन्नुम की अप्सरा Novel Pdf Download
Advertisements

 

 

 

Note- इस वेबसाइट पर दिये गए किसी भी पीडीएफ बुक, पीडीएफ फ़ाइल से इस वेबसाइट के मालिक का कोई संबंध नहीं है और ना ही इसे हमारे सर्वर पर अपलोड किया गया है।

 

 

 

यह मात्र पाठको की सहायता के लिये इंटरनेट पर मौजूद ओपन सोर्स से लिया गया है। अगर किसी को इस वेबसाइट पर दिये गए किसी भी Pdf Books से कोई भी परेशानी हो तो हमें [email protected] पर संपर्क कर सकते हैं, हम तुरंत ही उस पोस्ट को अपनी वेबसाइट से हटा देंगे।

 

 

 

सिर्फ पढ़ने के लिये 

 

 

पापियों को कष्ट होता है और जिन्होंने अच्छे कर्म किए हैं उन्हें स्वाभाविक रूप से पुरस्कृत किया जाता है। वास्तव में यम के धाम में जाने वाले दो द्वार हैं। यमदूत द्वारा पश्चिमी द्वार के माध्यम से अच्छा लाया जाता है और फिर स्वर्ग में ले जाया जाता है।

 

 

 

यम के सेवक दक्षिणी द्वार से उसके पास बुराई लाते हैं और यम उन्हें विभिन्न नरकों में भेज देते हैं। यदि कोई गाय को मारता है, तो उसे एक लाख वर्ष महाविचा नामक नरक में बिताने पड़ते हैं। यदि कोई ब्राह्मण को मारता है या भूमि की चोरी करता है, तो वहाँ है अमकुंभ नाम का एक जलता हुआ नरक जिसके पास जाता है।

 

 

 

वहाँ उस दिन तक कष्ट भोगते हैं जब तक संसार का नाश नहीं हो जाता। महिलाओं, बच्चों या बूढ़ों का हत्यारा चौदह मन्वन्तरों की अवधि के लिए राउरव नरक में रहता है। एक आगजनी करने वाले को महारौरवा के पास भेजा जाता है और वहां पूरे कल्प के लिए जला दिया जाता है।

 

 

 

एक चोर तामिसरा जाता है, जहां उसे यम के सेवकों द्वारा कई कल्पों के लिए लगातार भाले से छेदा जाता है। उसके बाद, एक चोर को सांप और कीड़ों द्वारा काटे जाने के लिए महात्मा मिश्रा के पास ले जाया जाता है। यदि आप अपने पिता या माता को मारते हैं, तो आपको नरक असिपत्रवन भेजा जाएगा।

 

 

 

वहाँ तुम लगातार तलवारों से टुकड़े-टुकड़े करोगे। अगर तुम किसी को जला दोगे तो कर्मभावलुका जाओगे जहां तुम्हें जलती हुई रेत पर रखा जाएगा। जो व्यक्ति अकेला मिठाई खाता है वह काकाओला जाता है और उसे कीड़े ही खिलाए जाते हैं।

 

 

 

 

जो व्यक्ति यज्ञ नहीं करता वह कुट्टल जाता है और उसे रक्त पिलाया जाता है। एक अत्याचारी को तैलपाका भेजा जाता है और वहां तिलहन की तरह कुचल दिया जाता है। महापता नामक नरक को एक झूठा भेजा जाता है। अंतर-वर्गीय विवाह को प्रोत्साहित करने वालों के लिए कई अन्य नरक हैं, जो जानवरों को मारते हैं, जो पेड़ काटते हैं, जो बहुत अधिक मांस खाते हैं, जो वेदों की आलोचना करते हैं, जो झूठी गवाही देते हैं और जो अपने शिक्षकों की आलोचना करते हैं।

 

 

 

पुण्य प्राप्ति के साधन के रूप में दान देना अत्यंत महत्वपूर्ण है। जब भी कोई मंदिर या तीर्थ स्थान पर जाता है तो हमेशा दान करना पड़ता है। दाता को हमेशा पूर्व की ओर मुंह करना चाहिए और प्राप्तकर्ता को हमेशा उत्तर की ओर मुंह करना चाहिए जब दान दिया जा रहा हो। ऐसा दान स्नान करने के बाद करना होता है।

 

 

 

मित्रों यह पोस्ट Prem Purnima Novel PDF In Hindi आपको कैसी लगी, कमेंट बॉक्स में जरूर बतायें और Prem Purnima Novel PDF In Hindi की तरह की पोस्ट के लिये इस ब्लॉग को सब्सक्राइब जरूर करें और इसे शेयर भी करें।

 

 

Leave a Comment

Advertisements
error: Content is protected !!