Police Verification Form pdf MP / पुलिस चरित्र प्रमाण पत्र pdf MP

नमस्कार मित्रों, इस पोस्ट में हम आपको Police Verification Form pdf MP देने जा रहे हैं। आप नीचे की लिंक से mp Police Verification form in Hindi Pdf Download कर सकते हैं।

 

 

 

MP Police Verification Form pdf / पुलिस वेरिफिकेशन फॉर्म MP Free Download

 

 

 

 

 

 

Character Certificate mp Police Verification Form in Hindi Pdf Download

 

 

इसे भी पढ़ें —-सीता मिथिला की योद्धा एक बेस्ट उपन्यास 

 

इसे भी पढ़ें —- चुटकी भर चाँदनी 

 

 

 

सरकारी कार्य या फिर गैर सरकारी कार्य में पुलिस चरित्र प्रमाण की आवश्यकता है, उसे ही पुलिस वैरिफिकेशन (Police Verafication) कहा जाता है। शहरों में किसी घर के एग्रीमेंट के समय भी Police Verafication की आवश्यकता होती है।

 

 

 

Police Verafication क्या है?

 

 

 

भाड़े पर घर या दुकान लेते समय, किसी सेक्टर में जॉब के समय (अक्सर दूसरे प्रदेशो में और मूल प्रदेश में भी) पासपोर्ट बनवाते समय Police Verafication की आवश्यकता होती है। इसे Character Certificate कहा जाता है। इसके तहत पोलिस यह जाँच करती है कि आपके ऊपर कोई आपराधिक मामले तो नहीं है।

 

 

 

आप Character Certificate पोलिस स्टेशन में जाकर ऑफलाइन बनवा सकते है और आप इसे Online भी बनवा सकते है। आपको फॉर्म भरकर सबमिट Website पर करना होगा।

 

 

 

Police Verafication के लिए आवश्यक दस्तावेज 

 

 

 

अब हम आपको बताने जा रहे है कि Character Certificate Form के लिए आवश्यक दस्तावेज क्या है।

 

 

1- आधार कार्ड।

2- राशन कार्ड।

3- वोटर आईडी।

4- फोटो।

5- पोस्ट आर्डर (आवेदन रसीद)

6- अन्य वेरिफाइड सर्टिफिकेट।

 

 

 

Mp Police Official Website For Character Certificate

 

 

 

हम आपको यहां मध्य प्रदेश पुलिस की वेबसाइट की लिंक दे रहे हैं। आप यहां से और भी विस्तार से पढ़ सकते हैं।

 

 

 

सिर्फ पढ़ने के लिए 

 

 

 

शृष्टि के कारण स्वरुप (भगवान) – भगवान कहते है – तथापि मेरे द्वारा उत्पन्न वस्तुए मुझमे स्थित नहीं रहती। जरा मेरे योग, ऐश्वर्य को देखो ! यद्यपि मैं समस्त जीवो का पालक (भर्ता) हूँ और सर्वत्र व्याप्त हूँ लेकिन मैं इस विराट अभिव्यक्ति का अंश नहीं हूँ क्योंकि मैं ही शृष्टि का कारण स्वरुप हूँ।

 

 

 

उपरोक्त शब्दों का तात्पर्य – वैदिक कोश निरुक्ति में कहा गया है – परमेश्वर अपनी शक्ति का प्रदर्शन करते हुए अचिन्त्य-आश्चर्यजनक लीलाए कर रहे है।

 

 

 

उनका व्यक्तित्व विभिन्न शक्तियों से पूर्ण है और उनका संकल्प स्वयं एक तथ्य है। भगवान का कथन है कि सब कुछ उन्ही पर आश्रित है। (मत्स्यानि सर्व भूतानि) इसका अन्य अर्थ नहीं लगाना चाहिए। भगवान इस भौतिक जगत के पालन तथा निर्वाह के लिए प्रत्यक्ष रूप से उत्तरदायी नहीं है।

 

 

 

कभी-कभी हम एटलस (एक रोयन देवता) को अपने कंधो पर गोला उठाए देखते है। वह अत्यंत ही थका हुआ प्रतीत होता है और इस विशाल पृथ्वी लोक को धारण किए रहता है।

 

 

 

 

हमे किसी ऐसे चित्र को मन में नहीं लाना चाहिए जिसमे कृष्ण इस श्रीजित ब्रह्माण्ड को धारण किए हो। उनका कहना है यद्यपि सारी वस्तुए उनपर टिकी है किन्तु वह उन सबसे पृथक रहते है।

 

 

 

 

हम कोई कार्य करते है तो अनेक विघ्न बाधाए आती है और कभी-कभी हम जो चाहते है उसे नहीं कर पाते है। किन्तु जब कृष्ण कोई कार्य करना चाहते है तो सब कुछ इतनी पूर्णता तथा सरलता से सम्पन्न हो जाता है कि कोई यह सोच ही नहीं पाता कि यह सब इतनी पूर्णता के साथ कैसे सम्पन्न हो गया – इसी से भगवान को समझा जा सकता है।

 

 

 

अर्थात भगवान को इसी रूप में समझना चाहिए। भगवान इस तथ्य को समझाते है – यद्यपि वह समस्त शृष्टि के पालनकर्ता तथा धारणकर्ता है किन्तु वह इस शृष्टि का स्पर्श नहीं करते है। केवल उनकी परम इच्छा से प्रत्येक वस्तु का शृजन, धारण, पालन तथा संहार होता है।

 

 

 

 

सारे लोक अंतरिक्ष में तैर रहे है और यह अंतरिक्ष परमेश्वर की शक्ति है। किन्तु  अंतरिक्ष से भिन्न है और वह पृथक स्थित है। अतः भगवान कहते है “यद्यपि ये सारे रचित पदार्थ मेरी अचिन्त्य शक्ति पर टिके है किन्तु भगवान के रूप में मैं उनसे पृथक रहता हूँ।” यह भगवान का अचिन्त्य ऐश्वर्य है।

 

 

 

 

भगवान के और स्वयं उनमे कोई भेद नहीं है, जैसा कि हमारे भौतिक मन में और स्वयं हममे भेद होता है क्योंकि वह परम आत्मा है और जीव भौतिक आत्मा है।

 

 

 

 

साथ ही वह प्रत्येक वस्तु में उपस्थित रहते है। किन्तु सामान्य व्यक्ति यह नहीं समझ पाता है कि वह साकार रूप में किस तरह उपस्थित रहते है।

 

 

 

 

वह इस भौतिक जगत से भिन्न है तो भी प्रत्येक वस्तु उन्ही पर आश्रित है। यहां पर इसे ही “योगम ऐश्वरम” अर्थात भगवान की योग शक्ति कहा गया है।

 

 

 

मित्रों यह पोस्ट Police Verification Form pdf MP आपको कैसी लगी जरूर बताएं और इस तरह की पोस्ट के लिए इस ब्लॉग को सब्स्क्राइब जरूर करें और इसे शेयर भी करें और आप इस साइट को बुकमार्क भी कर सकते हैं।

 

 

 

इसे भी पढ़ें —- पुलिस वेरिफिकेशन फॉर्म पीडीएफ

 

 

Leave a Comment