Advertisements

Padma Purana Gita Press Pdf / पद्म पुराण गीता प्रेस Pdf

Advertisements

नमस्कार मित्रों, इस पोस्ट में हम आपको Padma Purana Gita Press Pdf देने जा रहे हैं, आप नीचे की लिंक से Padma Purana Gita Press Pdf Download कर सकते हैं और आप यहां से  ब्रह्मवैवर्त पुराण Pdf Download कर सकते हैं।

 

Advertisements

 

 

Padma Purana Gita Press Pdf / पद्म पुराण गीता प्रेस पीडीएफ

 

 

Advertisements
Padma Purana Gita Press Pdf
पद्म पुराण पीडीऍफ़ डाउनलोड 
Advertisements

 

 

Bramhavaivart Puran Pdf
ब्रह्मवैवर्त पुराण Pdf Download
Advertisements

 

 

 

 

 

 

 

 

सिर्फ पढ़ने के लिए

 

 

 

 

मुनि अत्यंत प्रेम से पुलकित है और उनका शरीर पुलकित है और अपने नेत्र को श्री राम जी के मुख कमल में लगाए हुए है और मन में विचार कर रहे है।

 

 

 

 

कि मैंने ऐसा कौन सा जप, तप किया था जिसके कारण मन, ज्ञान, गुण से परे प्रभु का दर्शन मुझे प्राप्त हुआ। जप, योग और धर्म समूह के मनुष्य अनुपम भक्ति को प्राप्त होता है। श्री रघुवीर के पवित्र चरित्र को तुलसीदास जी रात-दिन गाते है।

 

 

 

 

6- दोहा का अर्थ- 

 

 

 

 

1- श्री राम जी का सुंदर यश कलयुग के पापो का नाश करने वाला, मन को दमन करने वाला और सुख का मूल है और जो लोग इसे आदर पूर्वक सुनते है उनपर श्री राम जी प्रसन्न रहते है।

 

 

 

 

2- यह कठिन कलिकाल पापो का खजाना है। इसमें न धर्म है, न ज्ञान है और न योग तथा जप ही है। इसमें तो जो लोग सबका भरोसा छोड़कर जो श्री राम जी को भजते है वही चतुर है।

 

 

 

 

चौपाई का अर्थ-

 

 

 

 

1- मुनि के चरण कमल सिर नवाकर देवता मनुष्य और मुनियो के स्वामी श्री राम जी वन को चले। आगे श्री राम जी है और उनके पीछे छोटे भाई लक्ष्मण जी है। दोनों ही मुनि के वेश में अत्यंत सुंदर और सुशोभित है।

 

 

 

 

2- दोनों के बीच में जानकी जी इस प्रकार सुशोभित हो रही है जैसे ब्रह्म और जीव के बीच माया सुशोभित हो। नदी, वन, पर्वत और दुर्गम घाटियां सभी अपने स्वामी को पहचानकर सुंदर रास्ता दे रहे है।

 

 

 

 

3- जहां-जहां देव रघुनाथ जी जाते है, वहां-वहां बादल आकाश में छाया करते है। रास्ते में जाते हुए विराध नाम का राक्षस मिला। सामने आते ही श्री राम जी ने उसे स्वर्ग को भेज दिया।

 

 

 

 

मित्रों यह पोस्ट Padma Purana Gita Press Pdf आपको कैसी लगी, कमेंट बॉक्स में जरूर बतायें और इस तरह की पोस्ट के लिये इस ब्लॉग को सब्सक्राइब जरूर करें और इसे शेयर भी करें।

 

 

 

 

Leave a Comment

error: Content is protected !!