Advertisements

कबीर साखी Pdf / Kabir Sakhi pdf Download

Advertisements

नमस्कार मित्रों, इस पोस्ट में हम आपको Kabir Sakhi pdf Download देने जा रहे हैं, आप नीचे की लिंक से Kabir Sakhi pdf Download कर सकते हैं और आप यहां से Ya Devi Sarva Bhuteshu Pdf कर सकते हैं।

Advertisements

 

 

 

 

 

 

Kabir Sakhi pdf Download

 

 

पुस्तक का नाम  Kabir Sakhi pdf Download
पुस्तक के लेखक 
भाषा  हिंदी 
साइज  46 Mb 
पृष्ठ  203 
श्रेणी  प्रेरक 

 

 

कबीर साखी Pdf Download

 

 

Advertisements
Kabir Sakhi pdf Download
Kabir Sakhi pdf Download यहां से करे।
Advertisements

 

 

Advertisements
Suspense Novel in Hindi free Download
जहन्नुम की अप्सरा Novel Pdf Download
Advertisements

 

 

Advertisements
Doraemon comic book
संमोहन बांसुरी हिंदी कॉमिक्स यहां से डाउनलोड करे।
Advertisements

 

 

 

Note- इस वेबसाइट पर दिये गए किसी भी पीडीएफ बुक, पीडीएफ फ़ाइल से इस वेबसाइट के मालिक का कोई संबंध नहीं है और ना ही इसे हमारे सर्वर पर अपलोड किया गया है।

 

 

 

यह मात्र पाठको की सहायता के लिये इंटरनेट पर मौजूद ओपन सोर्स से लिया गया है। अगर किसी को इस वेबसाइट पर दिये गए किसी भी Pdf Books से कोई भी परेशानी हो तो हमें [email protected] पर संपर्क कर सकते हैं, हम तुरंत ही उस पोस्ट को अपनी वेबसाइट से हटा देंगे।

 

 

 

सिर्फ पढ़ने के लिये

 

 

2002 के चुनावों में उनकी जीत के बाद शाह को नरेंद्र मोदी सरकार में एक साथ कई मंत्री पद दिए गए। 2004 में, यूपीए के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार ने आतंकवाद निरोधक अधिनियम (पोटा) कानून को निरस्त करने का फैसला किया, लेकिन अमित शाह राज्य विधानसभा में गुजरात संगठित अपराध नियंत्रण (जीओसीओसी) विधेयक पारित कराने में कामयाब रहे।

अमित शाह ने गुजरात धर्म स्वतंत्रता अधिनियम को पारित करने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई, जिससे धर्मांतरण मुश्किल हो जाएगा। बिल को काफी विरोध का सामना करना पड़ा लेकिन शाह ने इसका सफलतापूर्वक बचाव किया।2010 में, उन्हें हत्या और जबरन वसूली जैसे कई आरोपों के लिए गिरफ्तार किया गया।

जिससे नरेंद्र मोदी के बाद गुजरात के मुख्यमंत्री बनने की उनकी संभावना कम हो गई। उनके गुजरात जाने पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया था। लेकिन, 2012 में उन्हें सुप्रीम कोर्ट ने गुजरात में प्रवेश करने की अनुमति दी थी। शाह गुजरात के स्नूपगेट कांड में शामिल थे।

उन पर इशरत जहां एनकाउंटर केस से जुड़ी एक महिला की जासूसी करने का आरोप था। इशरत जहां एक 19 वर्षीय लड़की थी, जिसका गुजरात के बाहरी इलाके में 3 अन्य लोगों के साथ आतंकवादी होने और नरेंद्र मोदी को मारने की योजना बनाने के आरोप में सामना किया गया था।

अमित शाह पर 2002 के गुरजात दंगों के मामले में सबूतों को नुकसान पहुंचाने और गवाहों को प्रभावित करने का आरोप लगाया गया था; जिसके कारण लगभग 1,000 मुसलमानों की मौत हो गई।2010 में, अमित शाह पर एक स्थानीय अपराधी सोहराबुद्दीन शेख, उसकी पत्नी कौसर बी और उसके सहयोगी तुलसीराम प्रजापति की पुलिस के साथ फर्जी मुठभेड़ की योजना बनाने का आरोप लगाया गया था।

मामला सीबीआई को सौंपा गया था।सीबीआई ने कहा कि सोहराबुद्दीन गुजराती व्यापारियों से पैसे की उगाही कर रहा था और व्यापारियों ने सामूहिक रूप से सोहराबुद्दीन को खत्म करने के लिए अमित शाह को भुगतान किया। अमित शाह ने कुछ पुलिस अधिकारियों के साथ मिलकर सोहराबुद्दीन को मारने की योजना बनाई।

हालांकि, अमित शाह ने दावा किया कि वह निर्दोष हैं और उनके खिलाफ आरोप राजनीति से प्रेरित हैं।उन्होंने कांग्रेस पर राजनीतिक फायदे के लिए सीबीआई का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया। गुजरात के पुलिस आयुक्त ने कहा कि सीबीआई ने उन पर शाह को मामले में फंसाने का दबाव बनाया।

बाद में अमित शाह को 2014 में क्लीन चिट दे दी गई थी।25 जुलाई 2010 को उन्हें सोहराबुद्दीन मामले के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया था। उन्होंने जमानत के लिए आवेदन किया और गुजरात उच्च न्यायालय ने उन्हें 29 अक्टूबर 2010 को तीन महीने बाद जमानत दे दी।

मित्रों यह पोस्ट Kabir Sakhi pdf Download आपको कैसी लगी, कमेंट बॉक्स में जरूर बतायें और Kabir Sakhi pdf Download की तरह की पोस्ट के लिये इस ब्लॉग को सब्सक्राइब जरूर करें और इसे शेयर भी करें।

Leave a Comment

Advertisements
error: Content is protected !!