Advertisements

Jain Tantra Shastra Pdf / जैन तंत्र शास्त्र Pdf Download

Advertisements

नमस्कार मित्रों, इस पोस्ट में हम आपको Jain Tantra Shastra Pdf देने जा रहे हैं, आप नीचे की लिंक से Jain Tantra Shastra Pdf Download कर सकते हैं और आप यहां से जैन पद्म पुराण Pdf Download कर सकते हैं।

 

Advertisements

 

 

Jain Tantra Shastra Pdf / जैन तंत्र शास्त्र पीडीएफ

 

 

 

जैन तंत्र शास्त्र पीडीऍफ़ डाउनलोड 

 

 

 

 

 

Advertisements
Jain Tantra Shastra Pdf
Jain Tantra Shastra Pdf
Advertisements

 

 

सिर्फ पढ़ने के लिए

 

 

 

 

बालि ने कहा – हे श्री राम जी! सुनिए, स्वामी से मेरी चतुराई नहीं चल सकती। हे प्रभो! अंत काल में आपकी गति मिलने पर भी मैं गलत ही रहा।

 

 

 

चौपाई का अर्थ-

 

 

 

बालि की कोमल वाणी सुनकर श्री राम जी ने उसके सिर को अपने हाथो से स्पर्श किया और कहा – मैं तुम्हारे शरीर को अचल कर दूँ, तुम प्राणो को रखो। बालि ने कहा – हे कृपानिधान! सुनिए, मुनिगण प्रत्येक जन्म में अनेको प्रकार की साधना करते है।

 

 

 

 

फिर भी अंत समय में उनके मुख से ‘राम’ नहीं निकलता है। जिनके नाम के बल से शंकर जी काशी में सबको समान रूप से अविनाशिनी गति प्रदान करते है। वह श्री राम जी मेरे नेत्र के सम्मुख उपस्थित हो गए है। हे प्रभो ऐसा संयोग क्या फिर कभी प्राप्त हो सकता है?

 

 

 

 

छंद का अर्थ-

 

 

 

 

श्रुतियां ‘नेति-नेति’ कहकर जिसका गुणगान करती रहती है तथा प्राण और मन को जीतकर और इन्द्रियों को विषय के रस से सर्वथा नीरस बनाकर मुनिगण ध्यान में जिनकी किंचित ही झलक पाते है।

 

 

 

 

वही प्रभु साक्षात् मेरे सामने प्रकट है। आपने मुझे अत्यंत अभिमान वश जानकर कहा कि तुम शरीर रख लो। परन्तु ऐसा कौन मुर्ख होगा जो हठ पूर्वक कल्पवृक्ष को उखाड़कर बबूल के वृक्ष को लगावेगा।

 

 

 

 

हे नाथ! अब मुझपर दया दृष्टि कीजिए और मैं जो वर मांगता हूँ उसे दीजिए। मैं कर्म वश जहां भी जन्म लूँ। वही श्री राम जी के चरणों में प्रेम करूँ।

 

 

 

 

हे कल्याणप्रद प्रभो! यह मेरा पुत्र अंगद विनय और बल में मेरे ही समान है। इसे स्वीकार कीजिए और हे देवता और मनुष्यो के नाथ! बांह पकड़कर इसे अपना दास बनाइये।

 

 

 

 

मित्रों यह पोस्ट Jain Tantra Shastra Pdf आपको कैसी लगी, कमेंट बॉक्स में जरूर बतायें और इस तरह की पोस्ट के लिये इस ब्लॉग को सब्सक्राइब जरूर करें और इसे शेयर भी करें।

 

 

 

 

Leave a Comment

error: Content is protected !!