Advertisements

दसकुमारचरितं Pdf / Dasakumaracharita Pdf Hindi

Advertisements

नमस्कार मित्रों, इस पोस्ट में हम आपको Dasakumaracharita Pdf Hindi देने जा रहे हैं, आप नीचे की लिंक से Dasakumaracharita Pdf Hindi download कर सकते हैं और आप यहां से Ek Tukda Gayab Pdf कर सकते हैं।

Advertisements

 

 

 

 

 

 

Dasakumaracharita Pdf Hindi

 

 

पुस्तक का नाम  Dasakumaracharita Pdf Hindi
पुस्तक के लेखक  महाकवि डंडी 
भाषा  हिंदी 
साइज  1 Mb 
पृष्ठ  135 
श्रेणी  साहित्य 
फॉर्मेट  Pdf 

 

 

 

दसकुमारचरितं Pdf Download

 

 

Advertisements
Dasakumaracharita Pdf Hindi
Dasakumaracharita Pdf Hindi Download यहां से करे।
Advertisements

 

 

Advertisements
तिलिस्मा अविश्वसनीय मायाजाल नावेल Pdf Download
तिलिस्मा अविश्वसनीय मायाजाल नावेल Pdf Download
Advertisements

 

 

Advertisements
Billu Comics Pdf
बिल्लू और स्कूल इलेक्शन हिंदी कॉमिक्स यहां से डाउनलोड करे।
Advertisements

 

 

 

Note- इस वेबसाइट पर दिये गए किसी भी पीडीएफ बुक, पीडीएफ फ़ाइल से इस वेबसाइट के मालिक का कोई संबंध नहीं है और ना ही इसे हमारे सर्वर पर अपलोड किया गया है।

 

 

 

यह मात्र पाठको की सहायता के लिये इंटरनेट पर मौजूद ओपन सोर्स से लिया गया है। अगर किसी को इस वेबसाइट पर दिये गए किसी भी Pdf Books से कोई भी परेशानी हो तो हमें [email protected] पर संपर्क कर सकते हैं, हम तुरंत ही उस पोस्ट को अपनी वेबसाइट से हटा देंगे।

 

 

 

सिर्फ पढ़ने के लिये 

 

 

अमित शाह को 2000 में अहमदाबाद जिला सहकारी बैंक (एडीसीबी) के अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया था। एडीसीबी गहरे संकट में था और उसे दूरदर्शी नेतृत्व की आवश्यकता थी। बैंक को करीब 36 करोड़ और एक लाख रुपये का नुकसान हुआ था।

 

 

 

बैंक बंद होने की कगार पर था। अमित शाह ने बैंक की कमान संभाली और एक साल के भीतर इसकी किस्मत बदल दी। एक साल के भीतर भीतर उन्होंने 27 करोड़ रुपये का मुनाफा दर्ज किया। अमित शाह ने यह भी सुनिश्चित किया कि बैंक के अधिकांश निदेशक भाजपा के प्रति वफादार रहें।

 

 

 

अमित शाह 14 साल की उम्र में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) में शामिल हो गए थे। वह आरएसएस की स्थानीय शाखाओं (शाखाओं) में जाते थे। शाह अपने कॉलेज के दिनों में आरएसएस के स्वयंसेवक बन गए थे। वह 1982 में पहली बार नरेंद्र मोदी से मिले।

 

 

 

उन वर्षों के दौरान, नरेंद्र मोदी अहमदाबाद में युवा गतिविधियों के प्रभारी के रूप में आरएसएस के प्रचारक (प्रवर्तक) थे। उसी वर्ष, अमित शाह आरएसएस के छात्र संगठन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के सचिव बने। वह 1986 में भाजपा में शामिल हुए।

 

 

 

एक साल बाद, अमित शाह भाजपा की युवा शाखा भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) के साथ एक कार्यकर्ता बन गए और धीरे-धीरे पार्टी के रैंकों के माध्यम से ऊपर उठे। उन्होंने पार्टी के भीतर राज्य सचिव, उपाध्यक्ष और महासचिव जैसे कई महत्वपूर्ण पदों पर कार्य किया।

 

 

 

अमित शाह ने भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी के लिए प्रचार किया, जिन्होंने गुजरात में गांधी नगर संसदीय क्षेत्र से 1991 का आम चुनाव लड़ा था। 1990 के दशक के मध्य में, भाजपा ने केशुभाई पटेल के मुख्यमंत्री के रूप में गुजरात में सरकार बनाई।

 

 

 

उस समय गुजरात के ग्रामीण क्षेत्रों में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस का अत्यधिक प्रभाव था। राज्य में कांग्रेस के प्रभाव को कम करने के लिए पार्टी आलाकमान ने नरेंद्र मोदी के साथ अमित शाह को जिम्मेदारी दी थी। शाह और मोदी बड़ी संख्या में लोगों को भाजपा में शामिल होने के लिए मनाने में सफल रहे।

इनमें से कई लोग अपने-अपने गांवों में ग्राम प्रधान पद के लिए चुनाव हार गए थे। अक्टूबर 2001 में नरेंद्र मोदी को गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में नियुक्त किया गया था और केशुभाई पटेल को खराब प्रशासनिक प्रदर्शन के कारण भाजपा आलाकमान ने हटा दिया था।

नतीजतन, अमित शाह को भी राज्य में राजनीतिक प्रमुखता मिली। मोदी और शाह दोनों अपने राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों को दरकिनार करने में कामयाब रहे। अमित शाह ने 2002 के गुजरात विधानसभा चुनावों में सरखेज विधानसभा क्षेत्र से करीब 1,60,000 मतों के अंतर से प्रचंड जीत दर्ज की।

मित्रों यह पोस्ट Dasakumaracharita Pdf Hindi आपको कैसी लगी, कमेंट बॉक्स में जरूर बतायें और Dasakumaracharita Pdf Hindi की तरह की पोस्ट के लिये इस ब्लॉग को सब्सक्राइब जरूर करें और इसे शेयर भी करें।

Leave a Comment

Advertisements
error: Content is protected !!