Advertisements

कपास की खेती Pdf / Cotton Cultivation PDF In Hindi

Advertisements

नमस्कार मित्रों, इस पोस्ट में हम आपको Cotton Cultivation PDF In Hindi देने जा रहे हैं, आप नीचे की लिंक से Cotton Cultivation PDF In Hindi download कर सकते हैं और आप यहां से Shodashi Tantra Shastra Pdf कर सकते हैं।

Advertisements

 

 

 

 

 

 

Cotton Cultivation PDF In Hindi

 

पुस्तक का नाम  Cotton Cultivation PDF In Hindi
पुस्तक के लेखक  Devlopment Support Center
भाषा  हिंदी 
साइज  2 Mb 
पृष्ठ 
श्रेणी  विषय 
फॉर्मेट  Pdf 

 

 

कपास की खेती Pdf Download

 

 

Advertisements
Cotton Cultivation PDF In Hindi
Cotton Cultivation PDF In Hindi Download यहां से करे।
Advertisements

 

 

Advertisements
Cotton Cultivation PDF In Hindi
एल्गा गोरस हिंदी नॉवेल यहां से डाउनलोड करे।
Advertisements

 

 

Advertisements
Cotton Cultivation PDF In Hindi
बिल्लू का समोसा हिंदी कॉमिक्स यहां से डाउनलोड करे।
Advertisements

 

 

 

Note- इस वेबसाइट पर दिये गए किसी भी पीडीएफ बुक, पीडीएफ फ़ाइल से इस वेबसाइट के मालिक का कोई संबंध नहीं है और ना ही इसे हमारे सर्वर पर अपलोड किया गया है।

 

 

 

यह मात्र पाठको की सहायता के लिये इंटरनेट पर मौजूद ओपन सोर्स से लिया गया है। अगर किसी को इस वेबसाइट पर दिये गए किसी भी Pdf Books से कोई भी परेशानी हो तो हमें [email protected] पर संपर्क कर सकते हैं, हम तुरंत ही उस पोस्ट को अपनी वेबसाइट से हटा देंगे।

 

 

 

सिर्फ पढ़ने के लिये 

 

 

विष्णु ने नरसिंह का रूप धारण किया और हिरण्यकश्यप का वध किया। इसके बाद उन्होंने प्रह्लाद को राक्षसों का राजा बनाया। दूसरा युद्ध वामन युद्ध था और यह तब हुआ जब बाली राक्षसों का राजा था। विष्णु ने राक्षसों को वश में करने के लिए एक बौने का रूप अपनाया।

 

 

तीसरा युद्ध वराह युद्ध था और यह तब हुआ जब हिरण्याक्ष राक्षसों का राजा था। विष्णु ने एक जंगली वराह का रूप अपनाया और हिरण्याक्ष को मार डाला। चौथा युद्ध अमृतमंथन युद्ध था और यह अमृत के लिए समुद्र के मंथन पर हुआ था।

 

 

 

देवों और असुरों के बीच पांचवां युद्ध तारा के अपहरण को लेकर हुआ था और इसे तारकामाया युद्ध के रूप में जाना जाता है। छठा युद्ध आजीवक युद्ध के नाम से जाना गया। सातवां युद्ध तब हुआ जब त्रिपुरा ने असुरों का नेतृत्व किया और इसे त्रिपुराघाटन युद्ध के रूप में जाना जाता है।

 

 

 

इस युद्ध में शिव ने त्रिपुरा राक्षस का वध किया था। आठवां युद्ध, अंधका युद्ध, तब हुआ जब अंधका ने असुरों का नेतृत्व किया। यह विष्णु था जिसने अंधका को मार डाला जब अंधका ने शिव की पत्नी का अपहरण करने की इच्छा व्यक्त की।

 

 

नौवें युद्ध को वृत्रासंभरा के रूप में जाना जाता था और यह तब हुआ जब वृत्रा ने राक्षसों का नेतृत्व किया। दसवें युद्ध को केवल जीता के नाम से जाना जाता था। इस युद्ध में, विष्णु ने शाल्व और अन्य राक्षसों को मार डाला, और परशुराम ने दुष्ट क्षत्रियों को मार डाला।

 

 

 

ग्यारहवें युद्ध को हलाहला के नाम से जाना जाता था। हलाहल नाम के एक असुर ने शिव के शरीर पर आक्रमण किया था और उसमें जहर भर दिया था। लेकिन विष्णु राक्षस को नष्ट करने में कामयाब रहे। बारहवें युद्ध में, जिसे कोलाहला के नाम से जाना जाता है।

 

 

 

विष्णु ने कोल्हाला नामक एक असुर को नष्ट कर दिया। धन्वंतरि देवताओं के चिकित्सक थे और उन्होंने सुश्रुत को आयुर्वेद की कला सिखाई। अग्नि पुराण अब वर्णन करता है कि ऋषि सुश्रुत ने क्या सीखा, अर्थात विभिन्न रोगों का उपचार।

 

 

 

इसका अर्थ केवल मानव रोगों का उपचार नहीं है। वृक्ष आयुर्वेद के नाम से जाना जाने वाला एक खंड है, जो बताता है कि कौन सा पेड़ कहाँ लगाया जाना है। यह वर्णन करता है कि एक बगीचे का निर्माण और रखरखाव कैसे किया जाता है।

 

 

चिकित्सा के अध्यायों में हाथियों, घोड़ों और मवेशियों के उपचार का भी वर्णन किया गया है। सर्प विष का उपाय करने वाले मंत्र भी संबंधित हैं। इसके बाद, अग्नि पुराण में साहित्य और व्याकरण पर कई अध्याय हैं। इसमें विभिन्न प्रकार के छंद का वर्णन किया गया है जो कविता में उपयोग किए जाते हैं।

 

 

 

मित्रों यह पोस्ट Cotton Cultivation PDF In Hindi आपको कैसी लगी, कमेंट बॉक्स में जरूर बतायें और Cotton Cultivation PDF In Hindi की तरह की पोस्ट के लिये इस ब्लॉग को सब्सक्राइब जरूर करें और इसे शेयर भी करें।

 

 

Leave a Comment

Advertisements
error: Content is protected !!