Bhojan Mantra in Hindi Pdf / भोजन करने से पहले जरूर बोलें यह मंत्र

मित्रों इस पोस्ट में Bhojan Mantra in Hindi दिया जा रहा है। आप भोजन मंत्र जरूर पढ़ें और Bhojan Mantra in Hindi Pdf Free Download कर सकते हैं।

 

 

 

Bhojan Mantra in Hindi Pdf भोजन मंत्र Pdf

 

 

 

 

 

 

Bhojan Mantra in Hindi

 

 

 

भारतीय संस्कृति में भोजन का और मंत्रो का बहुत सम्मान किया जाता है। भोजन करने के पूर्व प्रणाम करके ही हम भोजन करते है। हम आज आपको भोजन मंत्र बताने जा रहे है जिसे पढ़कर भोजन करने से बहुत लाभ होता है।

 

 

 

इसलिए भोजन के माध्यम से हम अन्न देवता का आह्वान करते है उन्हें प्रणाम करते है और उन्हें धन्यवाद करते हुए यह कामना करते है कि जिस तरह से हमे भोजन प्राप्त हुआ वैसे सभी को मिले और कोई भूखा ना रहे।

 

 

 

खाना खाने के पहले का मंत्र 

 

 

ब्रह्मार्पणं ब्रह्महविर्ब्रह्माग्नौ ब्रह्मणा हुतम्।
ब्रह्मैव तेन गन्तव्यं ब्रह्मकर्म समाधिना।। 

 

 

ॐ सह नाववतु।
सह नौ भुनक्तु।
सह वीर्यं करवावहै।
तेजस्विनावधीतमस्तु।
मा विद्‌विषावहै॥
ॐ शान्ति: शान्ति: शान्ति:॥ 

 

 

हिंदीअर्थ – जिन वस्तुओ को हम खाने, खिलाने के लिए उपयोग करते है वह ब्रह्मा है। भोजन ही ब्रह्मा है। भूख की अग्नि में हम ब्रह्मा महसूस करते है और हम ब्रह्मा है और भोजन खाने और पचाने की प्रक्रिया ब्रह्मा क्रिया है और प्राप्त परिणाम ब्रह्मा है। ( भगवद्गीता से )

 

 

अर्थ- आओ एक दूसरे की रक्षा करते है। चलो एक साथ भोजन करते है। चलो एक साथ काम करते है। आओ सफल होने के लिए एक साथ अध्ययन करते है। हमे एक दूसरे से नफरत नहीं करना है। ॐ शांतिः ॐ शांतिः ॐ शांतिः।

 

 

 

भोजन पूर्व हिंदी में बोला जाने वाला मंत्र 

 

 

अन्न ग्रहण करने से पहले

विचार मन में करना है

किस हेतु से इस शरीर का

रक्षण पोषण करना है

हे परमेश्वर एक प्रार्थना

नित्य तुम्हारे चरणों में

लग जाए तन,मन, धन मेरा

विश्व धर्म की सेवा में।

 

 

खाना खाने के बाद बोला जाने वाला मंत्र 

 

 

अन्नाद्भवन्ति भूतानि पर्जन्यादन्नसम्भवः।

यज्ञाद्भवति पर्जन्यो यज्ञः कर्मसमुद्भवः।।

 

 

 

भोजन से जुड़े कुछ नियम

 

 

अब हम आपको भोजन से जुड़े कुछ नियम बताने जा रहे है जहां तक हो सके आप कोशिस करे कि इसका पालन हो।

 

1- भोजन के समय हो सके पूर्व दिशा में बैठे और दक्षिण दिशा की तरफ मुंह करके कत्तई भोजन ना करे।

2- भोजन के पूर्व हाथ,पैर और मुंह अच्छे से साफ करे।

3- अंधेरे में भोजन ना करे।

4- भोजन की बुराई कभी ना करे।

5- खड़े-खड़े या जूता चप्पल पहनकर भोजन ना करे।

 

 

 

मित्रों यह पोस्ट Bhojan Mantra in Hindi आपको कैसी लगी जरूर बताएं और इस तरह की पोस्ट के लिये इस ब्लॉग को सब्स्क्राइब जरूर करें और इसे शेयर भी करें।

 

 

इसे भी पढ़ें —-सुंदरकांड पढ़ने के फायदे

 

 

 

 

Leave a Comment