Advertisements

All Mantra In Hindi Pdf / आल मंत्र इन हिंदी Pdf

Advertisements

नमस्कार मित्रों, इस पोस्ट में हम आपको All Mantra In Hindi Pdf देने जा रहे हैं, आप नीचे की लिंक से All Mantra In Hindi Pdf Download कर सकते हैं और आप यहां से  50 + धार्मिक पुस्तके Pdf पढ़  सकते हैं।

 

Advertisements

 

 

1- गोरखनाथ मंत्र बुक pdf

 

2-  अघोर मंत्र Pdf Download

 

Advertisements
All Mantra In Hindi Pdf
All Mantra In Hindi Pdf
Advertisements

 

3-  शाबर मंत्र भाग 7 Pdf

 

4- नवनाथ मंत्र Pdf Download

 

5- महा मृत्युंजय मंत्र Pdf

 

6- वशीकरण मंत्र Pdf

 

7-  Maa Durga Mantra Pdf

 

8-  हनुमान शाबर मंत्र Pdf Free

 

9- Bhojan Mantra in Hindi Pdf

 

10-  वैभव लक्ष्मी मंत्र Pdf

 

11- शाबर मंत्र हिंदी पीडीएफ फ्री

 

 

 

All Mantra In Hindi Pdf / आल मंत्र इन हिंदी पीडीएफ

 

 

 

 

 

 

 

 

चौपाई का अर्थ-

 

 

 

1- श्री दशरथ जी की नगरी अयोध्या में रहने वाले और जो मिथिलापति जनक के नगर जनकपुर में रहने वाले ब्राह्मण थे तथा सूर्यवश के गुरु वशिष्ठ जी तथा जनक जी के पुरोहित शतानन्द जी जिन्होंने सांसारिक अभ्युदय का मार्ग तथा परमार्थ का मार्ग शोध डाला था।

 

 

 

 

2- वह सब धर्म नीति, वैराग्य तथा विवेक युक्त अनेक उपदेश देने लगे। विश्वामित्र जी ने पुरानी कथाये और इतिहास कहते हुए सभा को सुंदर वाणी से समझाया।

 

 

 

 

3- तब श्री रघुनाथ जी ने विश्वामित्र जी से कहा कि हे नाथ! कल सब लोग बिना जल पिए ही रह गए थे अब कुछ आहार करना चाहिए। विश्वामित्र जी ने कहा कि श्री रघुनाथ जी उचित ही कह रहे है। ढाई पहर दिन आज भी बीत गया।

 

 

 

 

4- विश्वामित्र जी का रुख देखकर तिरहुत राज जनक जी ने कहा – यहां अन्न खाना उचित नहीं है। राजा का सुंदर कथन सबके मन को अच्छा लगा, सब आज्ञा मिलने पर नहाने गए।

 

 

 

 

278- दोहा का अर्थ-

 

 

 

उसी समय अनेक प्रकार के बहुत से फल, फूल, पत्ते, मूल आदि कांवड़ में भरकर तथा बोझ बनाकर वनवासी और कोल-किरात लोग ले आये।

 

 

 

 

चौपाई का अर्थ-

 

 

 

1- श्री राम जी की कृपा से सब पर्वत मनचाही वस्तु प्रदान करने वाले हो गए। वह देखने मात्र से ही दुखो को सर्वथा हर लेते थे। वहां के तालाबों पर्वतो नदियों तथा पृथ्वी के हर भाग में मानो आनंद और प्रेम उमड़ रहा है।

 

 

 

 

2- बेल और वृक्ष सब फल और फूल से युक्त हो गए। पक्षी, पशु और भौरे अनुकूल बोलने लगे। उस अवसर पर उनमे बहुत उत्साह और आनंद था। सब किसी को सुख देने वाली शीतल, मंद, सुगंध हवा चल रही थी।

 

 

 

 

 

मित्रों यह पोस्ट All Mantra In Hindi Pdf आपको कैसी लगी, कमेंट बॉक्स में जरूर बतायें और इस तरह की पोस्ट के लिये इस ब्लॉग को सब्सक्राइब जरूर करें और इसे शेयर भी करें।

 

 

 

 

Leave a Comment

error: Content is protected !!